Hindi Shayari

29
सुना है हमें वो भुलाने लगे हैं, तो क्या हम उन्हें याद आने लगे हैं.
Open in app
Hindi Shayari
24
किसी ने कभी हमारा सहारा भी लिया था अपनी अधूरी रातों को गुजरने के लिए, अब जब उनकी आदत हमे लगी तो उन्होंने सहारा ही बदल दिया. ———————
Hindi Shayari
50
वक़्त के साथ ए मेरे यार तुझे ये सबक मिलेगा, चाहने वाले तो हजार मिलेंगे पर चाहतों में फ़र्क मिलेगा. ————————
Hindi Shayari
38
शोर से जागना तो लाज़िमी है लेकिन, कभी-कभी किसी की ख़ामोशी सोने नहीं देती. ————————-
Hindi Shayari
35
जो लोग मौत को ज़ालिम क़रार देते हैं, ख़ुदा मिलाए उन्हें ज़िंदगी के मारों से. ———————
Hindi Shayari
35
कोई समझाओ इन हुस्न वालों को ग़ुरूर ना करे, जब झुर्रियां आएगी चेहरे पर तब भी मोहब्बत हम ही करेगें. ———————-
Hindi Shayari
31
होश वालों को ख़बर क्या बे-ख़ुदी क्या चीज़ है, इश्क़ कीजे फिर समझिए ज़िंदगी क्या चीज़ है. ——————————-
Hindi Shayari
28
इब्तिदा वो थी कि जीना था मोहब्बत में मुहाल , इंतिहा ये है कि अब मरना भी मुश्किल हो गया . ———————-
Hindi Shayari
28
लब पे आहें भी नहीं आँख में आँसू भी नहीं, दिल ने हर राज़ मुहब्बत का छुपा रक्खा है. ———————
Hindi Shayari
37
तुमको खबर ना रही मेरी, हम तुम्हारे हो कर गुजर गए. ———-
Hindi Shayari
30
कलम से वफ़ादारी कर लीजिए, दिल की बात ये बिना कहे कह देता है.
Hindi Shayari
64
हर मोड़ पर तुमसे मुलाक़ातें हुई.